Top 100+ best Bewafa shayari- in Hindi

best-Bewafa-shayari-

best Bewafa shayari- in Hindi: This Page containbest Bewafa shayari- in Hindi for you. You can use these best Bewafa Shayari– & images to put on your WhatsApp status and Instagram.

best Bewafa shayari- in Hindi

जब तक न लगे बेवफ़ाई की ठोकर दोस्त,
हर किसी को अपनी पसंद पर नाज़ होता है।

Jab Tak Na Lage Bewafai Ki Thhokar Dost,
Har Kisi Ko Apni Pasand Par Naaz Hota Hai.

best-Bewafa-shayari

फिर से निकलेंगे तलाश-ए-ज़िन्दगी में,
दुआ करना इस बार कोई बेवफा न निकले।

फिर से निकलेंगे तलाश-ए-ज़िन्दगी में,
दुआ करना इस बार कोई बेव

फिर से निकलेंगे तलाश-ए-ज़िन्दगी में,
दुआ करना इस बार कोई बेवफा न निकले।

Fir Se Niklenge Talash-e-Zindagi Me,
Dua Karna Iss Baar Koi Bewafa Na Mile.

best-Bewafa-shayari

तेरा ख्याल दिल से मिटाया नहीं अभी,
बेवफा मैंने तुझको भुलाया नहीं अभी।

Tera Khayal Dil Se Mitaya Nahi Abhi,
Bewafa Maine Tujhko Bhulaya Nahi Abhi.

best-Bewafa-shayari

तेरी वफ़ा के तकाजे बदल गये वरना,
मुझे तो आज भी तुझसे अजीज कोई नहीं।

Teri Wafa Ke Takaaje Badal Gaye Varna,
Mujhe To Aaj Bhi Tujhse Azeez Koi Nahi.

अगर दुनिया में जीने की चाहत न होती,
तो खुदा ने मोहब्बत बनायी न होती,
इस तरह लोग मरने की आरजू न करते,
अगर मोहब्बत में किसी की बेवफाई न होती।

Agar Duniya Me Jeene Ki Chahat Na Hoti,
To Khuda Ne Mohabbat Banayi Na Hoti,
Iss Tarah Log Marne Ki Aarzoo Na Karte,
Agar Mohabbat Me Kisi Ki Bewafai Na Hoti.

तेरी बेवफाई को भुला ना सकेगें,
चाहे भी तो कभी मुस्कुरा ना सकेगें,
तुझ को तो मिल गया यार अपना..
अपना किसी को हम बना ना सकेगें।

कोई मिला ही नहीं जिसको वफा देते।
हर एक ने दिल तोड़ा,
किस-किस को सजा देते।

Koi Mila Hi Nahi Jisko Wafa Dete.
Har Ek Ne Dil Toda,
Kis Kis Ko Saja Dete.

best-Bewafa-shayari

बेवफा लोग बढ़ रहे हैं धीरे-धीरे,
एक शहर अब इनका भी होना चाहिए।

Bewafa Log Badh Rahe Hain Dheere Dheere,
Ek Sahar Ab Inka Bhi Hona Chahiye.

तेरा ख्याल दिल से मिटाया नहीं अभी,
बेवफा मैंने तुझको भुलाया नहीं अभी।

Tera Khayal Dil Se Mitaya Nahi Abhi,
BeWafa Maine Tujhko Bhulaya Nahi Abhi.

best-Bewafa-shayari

हमसे न करिये बातें यूँ बेरुखी से सनम,
होने लगे हो कुछ-कुछ बेवफा से तुम।

Humse Na Kariye Baatein Yoon Berukhi Se Sanam,
Hone Lage Ho Kuchh-Kuchh Bewafa Se Tum.

हर भूल तेरी माफ़ की
तेरी हर खता को भुला दिया,
गम है कि मेरे प्यार का
तूने बेवफाई सिला दिया।

Har Bhool Teri Maaf Ki
Teri Har Khata Ko Bhula Diya,
Gham Hai Ki Mere Pyar Ka
Tu Ne Bewafai Sila Diya.

आप बेवफा होंगे सोचा ही नहीं था,
आप भी कभी खफा होंगे सोचा नहीं था,
जो गीत लिखे थे कभी प्यार में तेरे,
वही गीत रुसवा होंगे सोचा ही नहीं था।

Aap Bewafa Honge Socha Hi Nahi Tha,
Aap Kabhi Khafa Honge Socha Hi Nahi Tha,
Jo Geet Likhe The Kabhi Pyar Mein Tere,
Wahi Geet Ruswa Honge Socha Hi Nahi Tha.

ढूंढ़ तो लेते अपने प्यार को हम,
शहर में भीड़ इतनी भी न थी,
पर रोक दी तलाश हमने,
क्योंकि वो खोये नहीं बदल गए थे।

अपने तजुर्बे की आज़माइश की ज़िद थी,
वर्ना हमको था मालूम कि तुम बेवफा हो जाओगे।

best-Bewafa-shayari

मोहब्बत से रिहा होना ज़रूरी हो गया है,
मेरा तुझसे जुदा होना ज़रूरी हो गया है,
वफ़ा के तजुर्बे करते हुए तो उम्र गुजरी,
ज़रा सा बेवफा होना ज़रूरी हो गया है।

मेरी वफा की कदर ना की,
अपनी पसंद पे तो ऐतबार किया होता,
सुना है वो उसकी भी ना हुई,
मुझे छोड दिया था उसे तो अपना लिया होता।

हम तो जल गये उसकी मोहब्बत में
मोम की तरह,
अगर फिर भी वो हमें बेवफा कहे
तो उसकी वफा को सलाम..

अब देखिये तो किस की जान जाती है,
मैंने उसकी और उसने मेरी कसम खायी है।

Ab Dekhiye To Kis Ki Jaan Jaati Hai,
Maine Uski Aur Usne Meri Qasam Khayi Hai.

best-Bewafa-shayari

उसकी बेवफाई पे भी फ़िदा होती है जान अपनी,
अगर उसमे वफ़ा होती तो क्या होता खुदा जाने।

Uski Bewafai Pe Bhi Fida Hoti Hai Jaan Apni,
Agar Uss Me Wafa Hoti To Kya Hota Khuda Jane.

बेवफाओं की इस दुनिया में संभल कर चलना,
यहाँ मोहब्बत से भी बरबाद कर देतें हैं लोग।

Bewafaon Ki Iss Duniya Me Sambhal Kar Chalna,
Yehan Mohabbat Se Bhi Barbaad Kar Dete Hain Log.

इधर हमसे भी बात लाख करते हैं लगावत की,
उधर गैरों से भी कुछ बादे होते जाते हैं।Idhar Humse Bhi Baat Lakh Karte Hain Lagawat Ki,
Udhar Gairo Se Bhi Kuchh Vaade Hote Jate Hain.

मोहब्बत से भरी कोई गजल उसे पसंद नहीं,
बेवफाई के हर शेर पे वो दाद दिया करते हैं।

Mohabbat Se Bhari Koyi Ghazal Use Pasand Nahi,
Bewafai Ke Har Sher Pe Wo Daad Diya Karte Hain.

हर भूल तेरी माफ की तेरी हर खता को भुला दिया,
गम है की मेरे प्यार का तू ने बेवफाई सिला दिया।

Har Bhool Teri Maaf Ki Teri Har Khata Ko Bhula Diya,
Gam Hai Ki Mere Pyar Ka Tu Ne Bewafai Sila Diya.

रोये कुछ इस तरह से मेरे जिस्म से लिपट के,
ऐसा लगा के जैसे कभी बेवफा न थे वो।

Roye Kuchh Iss Tarah Se Mere Jism Se Lipat Ke,
Aisa Laga Ke Jaise Kabhi Bewafa Na The Wo.

best-Bewafa-shayari

इस दौर में की थी जिस से वफ़ा की उम्मीद,
आखिर को उसी के हाथ का पत्थर लगा मुझे।

Iss Daur Mein Ki Thi Jis Se Wafa Ki Umeed,
Aakhir Ko Usi Ke Haath Ka Patthar Laga Mujhe.

मेरी मोहब्बत सच्ची है इसलिए तेरी याद आती है,
अगर तेरी बेवफाई सच्ची है तो अब याद मत आना।

Meri Mohabbat Sachchi Hai Isliye Teri Yaad Aati Hai,
Agar Teri Bewafai Sachchi Hai To Ab Yaad Mat Aana.

काम आ सकी न अपनी वफायें तो क्या करें,
उस बेवफा को भूल न जाये तो क्या करे।

Kaam Aa Saki Na Apni Wafayein To Kya Karein,
Uss Bewafa Ko Bhool Na Jayein To Kya Karein.

best-Bewafa-shayari

मुझे मालूम है हम उनके बिना जी नहीं सकते,
उनका भी यही हाल है मगर किसी और के लिए।

Mujhe Malum Hai Hum Unke Bina Jee Nahi Sakte,
Unka Bhi Yahi Haal Hai Magar Kisi Aur Ke Liye.

वो सुना रहे थे अपनी वफाओं के किस्से,
हम पर नजर पड़ी तो खामोश हो गये।

Woh Suna Rahe The Apni Wafao Ke Kisse,
Hum Par Nazar Padi To Khamosh Ho Gaye.

इतनी मुश्किल भी न थी राह मेरी मोहब्बत की,
कुछ ज़माना खिलाफ हुआ कुछ वो बेवफा हुए।

Itni Mushkil Bhi Na Thi Raah Meri Mohabbat Ki,
Kuchh Zamana Khilaaf Hua Kuchh Woh Bewafa Huye.

अब के अब तस्लीम कर लें तू नहीं तो मैं सही,
कौन मानेगा कि हम में से बेवफा कोई नहीं।

Ab Ke Ab Tasleem Kar Lein Tu Nahi Toh Main Sahi,
Kaun Manega Ke Hum Mein Se Bewafa Koi Nahi.

मेरे फन को तराशा है सभी के नेक इरादों ने,
किसी की बेवफाई ने किसी के झूठे वादों ने।

Mere Fan Ko Tarasha Hai Sabhi Ke Nek Iraadon Ne,
Kisi Ki Bewafai Ne Kisi Ke Jhoothhe Vaadon Ne.

खुदा ने पूछा क्या सज़ा दूँ उस बेवफ़ा को,
दिल ने कहा मोहब्बत हो जाए उसे भी।

Khuda Ne Puchha Kya Saza Doon Uss Bewafa Ko,
Dil Ne Kaha Mohabbat Ho Jaye Use Bhi.

जाते-जाते उसके आखिरी अल्फाज़ यही थे,
जी सको तो जी लेना मर जाओ तो बेहतर है।

Jaate-Jaate Uske Aakhiri Alfaz Yahi The,
Jee Sako Toh Jee Lena Mar Jaao Toh Behtar Hai.

मिल ही जाएगा कोई ना कोई टूट के चाहने वाला,
अब शहर का शहर तो बेवफा हो नहीं सकता।

Mil Hi Jayega Koi Na Koi Toot Ke Chahne Wala,
Ab Shahar Ka Shahar Toh Bewafa Ho Nahi Sakta.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fourteen + 11 =